सही समय पर खाना खाने के फ़ायदे | Benefits of eating food at the right time in hindi

सही समय पर खाना क्यों खाना चाहिए? आइए जानते हैं इसके 6 फ़ायदे | सही समय पर भोजन करना क्यों है ज़रूरी? | सही समय पर भोजन करना कितना फ़ायदेमंद है?

दोस्तों एक कहावत प्रचलित है कि इस दुनिया में पापी पेट के लिए सब कुछ करना पड़ता है। दिन रात की दौड़ धूप, कड़ी मेहनत, चाहे फिर वो मज़दूर हो, कर्मचारी हो या बिज़नेस से जुड़ा इंसान ही क्यों न हो। सभी का यही कहना होता है कि क्या करें ये सब पापी पेट के लिए करना पड़ता है जनाब!!



तो फ़िर ज़रा ये सोचिए कि इतना कुछ जब हम इस पेट के लिए करते हैं तो इस पेट को कुछ खिलाने की बारी आती है तब हम इतने लापरवाह क्यूँ हो जाते हैं। क्यों हम इस पेट को सही समय पर भोजन नहीं देते हैं? समय बेसमय इसे आहार देते हैं, क्यों उपयुक्त समय का ध्यान नहीं रखते हैं? और तो और इसे इसकी मनपसंद चीज़ें खिलाने के बजाय कुछ भी अनाब शनाब चीज़ें खिलाते रहते हैं।

सही मायने में कहा जाए तो यह एक कड़वा सच है कि इंसान जब कमाने लगता है तब इसी पेट के साथ अत्याचार करता है, सही समय पर उसे उपयुक्त भोजन न देकर। ऊपर से इसे किसी भी समय, कुछ भी अनाब शनाब खिला दिया जाता है। मेरा मतलब है अव्यवस्थित डाइट।


दोस्तों आज के व्यस्ततम समय में सबसे ज्यादा कहर इसी पेट पर बरसाया जाता है। इंसान के काम करने के चक्कर में भोजन का समय निर्धारित ही नहीं होता है। बाहर काम करने वाले अपने काम की वजह से समय पर खाना नहीं खा पाते तो घर पर रहने वाले सोचते हैं कि क्यों ना घर का सारा काम कर लें फिर फुर्सत से खा लेंगे। इस चक्कर में ज़्यादातर लोग ज़्यादा लेट-लतीफ़ खाना खाते हैं। परिणाम यह होता है कि ग्रहण किया गया भोजन आपके शरीर को फ़ायदा पहुंचाने के बजाय नुकसान पहुंचाने लगता है। 

तो फिर सवाल यह उठता है कि आख़िर समय पर खाना खाने का फ़ायदा क्या है? (samay par khana khane ka fayda kya hai?) तो चलिए जानते हैं कि टाइम पर खाना खाने के फ़ायदे क्या होते हैं (time par khana khane ke fayde kya hain?)


सही समय पर खाना खाने के फ़ायदे (Benefits of eating food at the right time in hindi)

खाना हमारे जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है। सही समय पर खाना खाने का महत्व न केवल हमारे शारीरिक स्वास्थ्य के लिए है, बल्कि मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी। इस लेख में, हम सही समय पर खाना खाने से क्या होता है (sahi samay par khana khane se kya hota hai?) निम्नलिखित बिंदुओं के आधार पर जानेंगे - 

1. पाचन प्रक्रिया में सुधार - 
सही समय पर खाना खाने से पाचन प्रक्रिया सुधारती है। जब हम नियमित रूप से सही समय पर भोजन करते हैं, तो हमारा पाचन तंत्र निसंदेह अच्छी तरह कार्य करता है। जिससे खाया हुआ भोजन आसानी से पूरी तरह से पच जाता है। 

2. ऊर्जा का स्तर बनाए रखना - 
सही समय पर भोजन खाने से हमारे शारीरिक और मानसिक ऊर्जा स्तर को बनाए रखने में मदद मिलती है। खाने के बाद हमारे शरीर को उसमें मिली पोषक तत्वों की ज़रूरत होती है, जिससे हम दिनभर चुस्त और ख़ुद को चार्ज महसूस करते हैं। जो कि आपको दिनभर गतिशील और क्रियाशील बनाए रखने में मदद करता है।

3. वज़न पर नियंत्रण -
सही समय पर भोजन खाने से वज़न नियंत्रित करना संभव होता है। सही मायने में देखा जाए तो यह आपकी दिन भर खाने की ताकत को संतुलित रूप में रखने में मदद करता है और अत्यधिक खाने से होने वाले ख़तरे को कम करता है। 

 
दरअसल अनियमित भोजन के कारण समय बेसमय नाश्ता करते रहने का ख़तरा बना रहता है, जिससे वज़न का बढ़ना लगभग तय हो जाता है। सही समय पर खाना खाने से हम निश्चित तौर पर अपनी भूख पर नियंत्रण पा सकते हैं। ज़रा सोचिए कि यदि आपका पेट भरा होगा।

4. अच्छी नींद आना - 
अधिकतर लोगों का रात्रि का भोजन सही समय पर नहीं होता है। रात्रि का भोजन लेट लतीफ़ करने से अच्छी नींद प्राप्त करना असंभव हो जाता है। रात्रि में शाम के बाद जल्दी भोजन कर लेने से पाचन भी अच्छी तरह हो जाता है। सही समय में किया गया भोजन, रात के दौरान शांति और आरामदायक नींद में मदद करता है।

5. आत्म-विश्वास बढ़ाएं - 
सही समय पर खाना खाने से आपके आत्म-विश्वास में भी बढ़ोत्तरी होती है। यह हमें अपने स्वास्थ्य और भोजन प्रणाली पर नियंत्रण बनाए रखने में महसूस मदद करता है, जिससे हम ख़ुद को बेहतर महसूस करते हैं। आत्मविश्वास में होने वाला सुधार आपको अपने स्वास्थ्य और खाने के प्रति सचेत रहने में मदद करता है।

6. स्वास्थ्य पर नियंत्रण - 
टाईम पर भोजन करना आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को संतुलित बनाता है। संतुलित और सही समय पर किया गया भोजन आपके शरीर के साथ-साथ आपके मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है।

निष्कर्ष 

टाईम पर खाना खाने के फ़ायदे अत्यधिक महत्वपूर्ण हैं। यह हमारे शारीरिक स्वास्थ्य को बनाए रखने के साथ-साथ हमारे आत्मीय और सामाजिक समृद्धि के लिए भी आवश्यक है। इसलिए हमें नियंत्रित और उपयुक्त समय पर भोजन करने की आदत बनाना चाहिए।

अगर आपकी आदत रात में देर से सोने की है। ऐसी स्थिति में भी खाना सही समय पर खाने का प्रयास करना चाहिए। साधारण तौर पर देखें तो लगभग 7 से 8 बजे के बीच का समय सही हो सकता है। देर से भोजन करने से पाचन की समस्या बढ़ने का ख़तरा बना रहता है। इसके अलावा देरी से भोजन करने से तनाव उत्पन्न करने वाले हार्मोन पैदा होते हैं, नींद खराब होती है और पेट पर चर्बी भी बढ़ती है। इसके अलावा देरी से भोजन करने से तनाव उत्पन्न करने वाले हार्मोन पैदा होते हैं, नींद खराब होती है और पेट पर चर्बी भी बढ़ती है।

अगर आप सुबह ब्रेकफास्ट करते हैं तब दोपहर का लंच दोपहर 11 बजे से 1 बजे के बीच कर ही लेना चाहिए। दरअसल यह एक ऐसा वक्त होता है, जब मेटाबॉलिज्म सबसे तेज़ी से काम करता है। इस समय किया गया भोजन सही तरह से पच जाता है। अगर दोपहर का खाना इससे भी ज़्यादा देरी से खाते हैं तो वज़न तेज़ी से बढ़ सकता है, पेट की समस्या, पाचन की समस्या आदि से जूझना पड़ सकता है। इसलिए इसका साफ़ सुथरा यही एक उपाय है कि भोजन सही समय पर लेना चाहिए।
(-  By Alok)


Some more articles :


Reactions

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ