पति-पत्नी के बीच झगड़े क्यों होते हैं, जानें ये 12 कारण | इन 12 वजहों से होता है पति पत्नी के बीच मनमुटाव

दोस्तों!! पति-पत्नी का रिश्ता 7 जन्मों का बंधन माना जाता हैं लेकिन शादी के कुछ सालों में ही ख़त्म होने के कगार पर क्यों पहुँच जाया करता है? आज की तेज़ भागती ज़िंदगी में इस तरह की समस्या अधिकतर हो रही है। अरेंज मैरिज हो या लव मैरिज। मीठे-मीठे सपने संजोकर ये जोड़े शादी तो बड़ी आसानी से कर लेते हैं, मगर जब निभाने की बारी आती है तब ये इसी रिश्ते को बोझ समझने लगते हैं।



दोस्तों! ज़रा इन दो बड़े ही दिलचस्प मगर पेचीदे सवालों पर नज़र डालिये। पहला सवाल - "पत्नी से झगड़ा क्यों होता है? और दूसरा सवाल - पति से झगड़ा क्यों होता है? ओह्ह! माफ़ी चाहता हूँ। दरअसल ये सवाल एक ही है। बस इसे पूछने वाला बदल गया है। मैं पति-पत्नी और झगड़े की बात ही कर रहा हूँ। समझ तो गये हैं ना आप ...!!

दरअसल शादी के बाद दो लोगों के बीच रिश्ता ख़राब तब होता है जब किसी बात को लेकर दोनों एक दूसरे को ताने देना शुरू कर देते हैं। जो कि अक़्सर पति-पत्नी के बीच होने वाले झगड़े का कारण बनते हैं। कुछ और बातें हैं जो पति और पत्नी के बीच झगड़े का कारण बनती हैं।


आज हम आपको कुछ ऐसे कारण बताने वाले हैं जो पति-पत्नी के बीच कलह के कारण बन जाते हैं। एक तरह से सोचा जाए तो झगड़े के इन कारणों को जानना, आपके रिश्ते को मजबूत बनाए रखने के लिए अच्छा हो सकता है। पति-पत्नी का रिश्ता प्यार और तकरार का रिश्ता होता है। जिसमें दोनों एक-दूसरे से इतना प्यार करते हैं कि उनके बीच की बहस और छोटी-मोटी लड़ाई भी उनके रिश्ते को प्रभावित नहीं करती है।

पति-पत्नी के बीच के झगड़े ज़्यादातर हेल्दी होते हैं जिसे वे ख़ुद ही आसानी से सुलझा लिया करते हैं। लेकिन उनके बीच किन्हीं मुद्दों पर गहरी कहासुनी हो जाये तब स्थिति गम्भीर रूप धारण कर लेती है। फ़िर वे उन मुद्दों को कभी-कभी सुलझाने में विफल हो जाते हैं। 

तो आइए जानते हैं पति पत्नी के झगड़े होने के कारण क्या है? पति और पत्नी के बीच लड़ाई के पीछे कई कारण होते हैं। उनमें से कुछ प्रमुख इस प्रकार हैं-

1. सरप्राइज देना बंद कर देना

अक्सर ऐसा होता है कि शादी के बाद शुरुआती समय में पति-पत्नी अक्सर एक दूसरे को कभी भी यानि कि आये दिन सरप्राइज़ देते रहते हैं। लेकिन शादी के कुछ समय बाद ही वे एकदूसरे को सरप्राइज़ देना बंद कर देते हैं। कभी-कभी ऐसी स्थिति में ख़ासकर महिलाओं को लगता है कि उनका साथी अब बदल गया है, जो पति और पत्नी के बीच झगड़े का कारण बनता है।

2. छुट्टी न लेने के कारण

पत्नियों को अक्सर यही शिकायत होती है कि उनका पति उनके लिए कभी ऑफिस से छुट्टी नहीं लेता है। आप यक़ीन नहीं करेंगे मगर यही सच है कि कभी-कभी यही छोटी सी बात अक्सर पति-पत्नी के बीच कलह का कारण बन जाती है। बेहतर यही है कि कभी-कभी एक दूसरे के लिए स्पेशल टाइम बचाकर सरप्राइज़ देने की कोशिश ज़रूर करें। 


3. रोमांस का अंत हो जाना

शादी के कुछ दिनों बाद अथवा जब पति-पत्नी माता-पिता बन जाते हैं, तो ज़ाहिर है कि उनमें रोमांस कम या ख़त्म हो जाता है। लेकिन आपको बता दें कि इससे उनके बीच झगड़े भी होते हैं। रिश्ते में एक जैसा प्यार न होना भी कभी-कभी पति-पत्नी के बीच मनमुटाव का कारण होता है। हम आपको बता दें कि इस तरह की समस्या अक्सर आपसी नीरसता के कारण उत्पन्न होती है। इसीलिए एक दूसरे के साथ क्वालिटी टाइम जीने का प्रयास करें। एक दूसरे की भावनाओं का ख़याल रखें। कम से कम हल्के फुल्के रोमांस की गुंजाईश तो ज़रूर बनाये रखिये। 

4. दोस्तों को अधिक समय देना

छुट्टी के बाद दोस्तों के साथ मस्ती करना सही है, लेकिन अपनी पत्नी को समय नहीं देना ग़लत है। परिवार के साथ क्वालिटी टाइम नहीं बिताने से पति और पत्नी के बीच प्यार कम हो जाता है। बेहतर यही है कि छुट्टी के दिन अथवा जब कभी भी समय मिले। एक दूसरे को समय देने की कोशिश करें। ताकि पति-पत्नी के आपसी रिश्ते और भी मज़बूत बन सकें। पति-पत्नी का रिश्ता बच्चों की तरह होता है। उन्हें ज़्यादा कुछ नहीं चाहिए। बस एक दूसरे का साथ चाहिए।

5. सामानों को सही जगह पर न रखना

महिलाएं घर की साफ-सफाई का बहुत ध्यान रखती हैं और साथी से भी यही उम्मीद करती हैं कि वह कम से कम अपनी चीज़ों को सही जगह पर रखें। ऐसा नहीं होने पर कभी-कभी दोनों के बीच झगड़ा हो जाता है। ऐसे समय पर बेहतर तालमेल और समझबूझ की आवश्यकता होती है। ऐसे वक्त पर एक दूसरे से बहस करने के बजाए एक दूसरे का हाथ बटाएं। ताकि इस तरह की बेतरतीबी भरे कामों से आप दोनों का टाइम बचेगा। इससे पति और पत्नी के बीच प्यार बढ़ता है। 

6. रोज़ाना एक ही तरह की डिश

पुरुषों को हर दिन एक ही तरह की डिश खाना पसंद नहीं है, लेकिन महिलाओं को इस बात की समस्या होती है कि रोज नया-नया क्या बनाया जाए। यह समस्या भी पति-पत्नी के बीच झगड़े का कारण बन जाया करती है। बेहतर है आपसी समझबूझ के साथ एक दूसरे की पसंद का ध्यान रखा जाना चाहिए। पत्नी-पत्नी में प्रेम बढ़ाने का उपाय इससे बेहतर और कोई नहीं।  


7. ईगो की समस्या होना

पति-पत्नी के बीच झगड़े के पीछे सबसे महत्वपूर्ण कारण उनका अहंकार (ईगो) का होना होता है। समायोजन, समझौता और बलिदान कुछ ऐसे अर्थपूर्ण शब्द हैं जो शादी के बाद पति-पत्नी के बीच होने वाले झगड़ों से बचा सकते हैं। वैसे भी शादी में शामिल दो व्यक्ति अलग-अलग पृष्ठभूमि और अलग-अलग जीवन स्तर से आते हैं। इसलिए उन्हें प्यार, देखभाल और समझ के साथ रहना बेहद ज़रूरी होता है। अतः दोनों को ही अपने-अपने ईगो भूलकर एक दूसरे को साथ लेकर चलने की प्रवत्ति ईजाद करनी चाहिए। इससे पति-पत्नी का जीवन बेहतर बनता है। 

8. शक करने की आदत होना

पति-पत्नी के बीच रिश्ते में विश्वास बहुत महत्वपूर्ण है। संदेह, शक, धोखा जैसे शब्द पति-पत्नी के बीच झगड़े का कारण बनते हैं। बाहर काम करना, दूसरों के साथ मित्रता करना एक दूसरे के बीच शक के बीज बोना। प्रत्येक बात के लिए अपने साथी पर संदेह करना मूर्खतापूर्ण है और यही सब पति-पत्नी के बीच तनाव का कारण बन जाता है। ऐसे घरों में आये दिन पत्नी और पति का झगड़ा होता रहता है। यह देखा गया है कि कई शादियां ज़्यादातर इसी मूर्खतापूर्ण स्वभाव के कारण तलाक़ के कगार तक पहुँच जाती हैं।


9. शारीरिक अंतरंगता में कम

आज के समय में भी कई कपल्स ऐसे हैं जो आपस में सेक्स के बारे में बात नहीं करना चाहते या एक दूसरे से इस विषय में बात करने से हिचकते हैं। परिणाम स्वरूप उनकी यौन इच्छायें असंतुष्ट रह जाती हैं। आपको यह जानकर भले ही अजीब लगे लेकिन हम आपको बता दें कि कपल्स के बीच झगड़ों के कारणों में अधिकतर कारण उनकी फ़िज़िकल संतुष्टि का न होना ही होता है। जो कि बाद में गुस्सा, बहस, झुंझलाहट आदि के रूप में प्रदर्शित होता है। आगे चलकर दोनों के बीच मतभेद उत्पन्न हो जाते है जिसका परिणाम घातक होता है।

आज की दुनिया के व्यस्त जीवन ने कपल्स की फ़िज़िकल डिमांड को एक अलग रूप दिया है। सामान्य मुद्दों में समर्थन और देखभाल के चलते हर साथी अपने पार्टनर के संग अंतरंग संबंधों को अच्छा रखने की उम्मीद करता है। यही शारीरिक अंतरंगता दोनों के बीच के रिश्तों को एक ख़ास मुक़ाम तक लेकर जाती है। लेकिन यदि उनके बीच अंतरंग संबंध ठीक नहीं है तो इसका दुष्प्रभाव उनके निजी जीवन पर भी पड़ने लगता है।

10. बच्चों की परवरिश

बच्चों की परवरिश हर माता-पिता की प्रमुख चिंता होती है। बच्चे विवाहित कपल्स के जुड़ाव का सूत्र होते हैं। आमतौर पर अपने बच्चों की परवरिश के तौर तरीकों को लेकर कपल्स के बीच कई तरह की बहस होती हैं। माता-पिता के तर्क उनके बच्चों के बीच मूल्यों, नैतिकता, अनुशासन से जुड़े होते हैं। कभी-कभी, अपने बच्चों के प्रति ज़िम्मेदार नहीं होने के कारण पति-पत्नी के बीच झगड़े बढ़ते जाते हैं।


11. पिछले रिलेशन

हर किसी के जीवन में एक अतीत होता है जिससे लोग अक्सर बाहर आने की कोशिश करते हैं। ऐसे अनेक उदाहरण सामने आते रहते हैं जहाँ पति-पत्नी एक अलग मुद्दे के साथ अपनी लड़ाई शुरू तो करते हैं लेकिन अंततः एक दूसरे के अतीत को खींचने और खोदने में लग जाते हैं। रिश्तों में अतीत को खींचने की यह प्रवृत्ति शादी के वर्तमान और भविष्य को परेशान करती रहती है और पति-पत्नी के बीच झगड़े का कारण बनती है।


12. दूसरों से तुलना करना

अक्सर ऐसा देखा जाता है कि किसी भी बात पर बहस होने पर कपल्स किन्ही दूसरों के साथ अपने पार्टनर की तुलना करने लग जाते हैं। जी हाँ, इस तरह की तुलना से आपका पार्टनर अंदर से टूट जाता है और यह एक बड़ी वजह बन सकती है आपके बीच झगड़े की। बेहतर यही है कि इस तरह के तुलनात्मक रवैये से बचा जाए।

निष्कर्ष (conclusion)-




दोस्तों! दुनिया में शायद ही कोई रिश्ता होगा जो बिना किसी झगड़े या बहस के चलता हो। कुछ झगड़े थोड़े अधिक बढ़ जाते हैं जिसमें लोग अलग तक हो जाते हैं। वैसे भी पति-पत्नी के झगड़े इतने दिलचस्प होते हैं कि उनके बीच थोड़ी देर में ही मस्ती देखने मिल जाती है।

दोस्तों!! परियों की कहानियाँ जीवन की सच्चाई नहीं हैं। किसी भी रिश्ते में केवल रोमांटिक पल नहीं हो सकते हैं लेकिन इसका मतलब यह कतई नहीं कि आपका पूरा जीवन केवल ख़राब समय में ही बीतेगा।

सांसारिक बात की जाए तो हम कह सकते हैं कि झगड़े ऐसे बहाने होते हैं जो आपके रिश्ते को गहरा करते हैं। एक व्यक्ति को हर रिश्ते की सीमा पता होनी चाहिए। चीज़ों को सही करने के लिए कब क्या करना है यह पति-पत्नी दोनों को पता होना चाहिए।


पति-पत्नी के बीच लड़ाई के जिन कारणों के बारे में इस लेख में बताया गया है। वे छोटे ज़रूर प्रतीत होते हैं। लेकिन ये धीरे-धीरे आपके रिलेशनशिप को नष्ट भी कर सकते हैं। आपको अपने जीवन साथी के साथ बात करके अपनी उलझनों को ख़त्म करने का प्रयास करना चाहिए। यदि समस्याएं हैं, तो समस्या का पता लगाएं। लेकिन इसे बड़ा न बनायें। 

कभी-कभी समस्याएँ बहुत छोटी होती हैं लेकिन इसे संभालने का हमारा तरीका सब कुछ गड़बड़ा देता है और हम बिना ख़ास वजह के ही एक दूसरे से लड़ बैठते हैं। परिणामस्वरूप कभी-कभी इसका हर्जाना भी भुगतना होता है।

दोस्तों उम्मीद है आपको हमारा यह अंक "पति-पत्नी के बीच झगड़े क्यों होते हैं, जानें ये 12 कारण" अवश्य पसंद आया होगा। मिलते हैं किसी और दिलचस्प आर्टिकल के साथ। तब तक आप इसे अपने दोस्तों से साझा करते रहिये। और साथ ही चहलपहल के ज़रिए हमसे जुड़े रहिये।

written by alok
ये चहलपहल के फाउंडर हैं। ये chahalpahal.in के एडिटर व Seo expert होने के साथ-साथ लेखन भी करते हैं। इन्हें lifestyle, motivation, relationship, social, health, marketing, tourist places पर लिखना ख़ासा पसंद है

अन्य आर्टकल भी पढ़ें👇

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ