करी पत्ते के क्या फायदे हैं | जानिए करी पत्ते के अदभुत फ़ायदे | Curry leaves advantages in hindi

आज हम बात कर रहे है एक ऐसे पौधे की पत्तियों के बारे में जिससे आप चिरपरिचित हैं। करी पत्ता क्या है? यानी कि ऐसी पत्तियाँ जिन्हें करी, सब्ज़ी, दाल आदि में तड़का लगाते समय डालने से जायका ही बदल जाता है। इनकी लाजवाब ख़ुशबू से तो मानो, दिल बाग-बाग हो जाता है। अब तो आपने समझ ही लिया होगा।




जी हां!! बिल्कुल सही समझे आप। इसका नाम है करी पत्ता (Curry leaf) जिसे मीठा नीम भी कहते हैं। यह देखने में नीम के जैसे ही दिखाई देते है मगर स्वाद में बेहतर और खुशबूदार होने की वजह से इसे "मीठा नीम" भी कहा जाता है।        
करी पत्ते का उपयोग केवल भोजन को स्वादिष्ट बनाने के लिए ही नहीं किया जाता बल्कि इसका उपयोग सौंदर्य प्रसाधनों एवं कई बीमारियों को दूर भगाने के लिए भी किया जाता है। इसके पौधे की जड़ों का उपयोग किडनी और आंखों के लिए भी किया जाता है।

करी पत्ते में भरपूर मात्रा में विटामिन A, B, C और E पाया जाता है। यानी कि मल्टीविटामिंस Multivitamins से भरपूर है ये करी पत्ता। ये आपकी स्कैल्प (सिर की त्वचा) को भी मज़बूत बनाने में मदद करता है। जिससे आपके बाल लंबे और घने होते हैं। करी पत्ता सेहत के लिए काफी उपयोगी माना जाता हैं। 


करी पत्ता (मीठा नीम) ज़्यादातर ग्रामीण क्षेत्रों में ज़्यादा उपयोग किया जाता है। क्योंकि इसके पौधे ग्रामीण क्षेत्रों में बहुतायत में पाए जाते हैं। शहरी क्षेत्रों में इसके पौधे गमलों में भी लगाए जाते हैं। बालों की देखरेख, उसे तंदुरुस्त रखने के लिए मीठे नीम के अद्भुत फायदे हैं। आइये जानते हैं ये करी पत्ता के फ़ायदे क्या हैं-


करी पत्ते के फ़ायदे बालों के लिए (Curry leaf advantages for hair in hindi)





(1) लंबे, मज़बूत और घने बालों के लिए-
मुट्ठी भर करी पत्ता या एक छोटा बाउल (एक कटोरा) करी पत्ता और 3 बड़े चम्मच दही लेकर इसे अच्छी तरह पीसकर इसके बाद इस हेयर मास्क का पेस्ट बनाकर अपने Scalp (सिर की त्वचा पर) लगभग 30 minutes तक लगा रहने दें। बाद में पानी और शेम्पू से बालों को धो लें। यक़ीन  मानिये लम्बे, मज़बूत और घने बालों के लिए इससे बेहतर और कोई नुस्ख़ा नहीं। 

(2) बालों के बेहतर विकास के लिए-
सफेद बालों की रोकथाम के लिये आप 1 मुट्ठी ताज़ा करी पत्ते और 2 से 3 बड़े चम्मच नारियल को एक कटोरे अथवा किसी भी बर्तन में डालकर धीमी आँच में तक तक गर्म करें जब तक कि करी पत्ते का color धूसर काला न हो जाये। तेल के छीटों से बचने के लिए गर्म करते समय थोड़ी दूरी बनाए रखें। ठंडा होने के बाद तेल को बालों की जड़ों में लगाए और धीरे-धीरे बालों में अंगुलियों से मसाज करें। 1 घंटे या पूरी रात रखने के बाद इसे सुबह शेम्पू से अच्छी तरह धो लें। अधिक फ़ायदा लेने के लिए आप चाहें तो हफ़्ते में 1 या 2 बार इस नुस्ख़े को आज़मा सकते हैं।

(3) डेन्ड्रफ Dandruff से बचने के लिए-
करी पत्ते में एंटी-फंगल गुण होते हैं जो डेन्ड्रफ, रूखेपन और फंगस infection से बालों की रक्षा करता है। एक चम्मच करी पत्ता का तेल, कर्पूर के तेल की 3 से 4 बूंदे। दोनों को अच्छे से मिलाएं और इसे बालों में लगाकर अपने बालों में हल्की-हल्की मसाज करें। इसके बाद शेम्पू से बालों को अच्छी तरह से धो लें।

(4) सफ़ेद बालों की रोकथाम के लिए-
एक चम्मच करी पत्ते का तेल और आधा चम्मच नारियल के तेल को अच्छी तरह से मिला लें। इस मिश्रण को बालों में लगाकर अच्छी तरह से मसाज करें। एक से दो घंटे तक अथवा रात भर इस मिश्रण को लगा रहने दें। इसके बाद बालों को अपने फ़ेवरिट शेम्पू से धो लें। इस मिश्रण को हल्का गुनगुना करके लगाने से और अधिक लाभ मिलता है।


(5) सिर की त्वचा के संक्रमण को रोकने के लिए-
बालों के झड़ने और बैक्टीरियल प्रभाव से Scalp (सिर की त्वचा) अक्सर संक्रमित हो जाती है।करी पत्ते के इस एंटी बैक्टेरियल गुण के कारण त्वचा में मौजूद बैक्टीरिया को दूर किया जा सकता है और सिर की त्वचा पर होने वाले संक्रमण को भी रोका जा सकता है। इसके लिए 1 चम्मच करी पत्ते का तेल, 1 चम्मच नारियल का तेल, 1/2 चम्मच कर्पूर का तेल। इन सभी को आपस में अच्छी तरह मिला लें और सिर की त्वचा पर हल्की-हल्की मालिश करें। इसके बाद शेम्पू से धो लें।


करी पत्ते के औषधीय गुण (Medicinal properties of curry leaves in hindi)




करी पत्ता बालों को काला करने, मज़बूती देने, लम्बे व घने करने के अलावा औषधीय यानि कि आयुर्वेदिक रूप में भी बहुत उपयोगी है। करी पत्ता खाने के फ़ायदे अनेक हैं। इसके प्रयोग से अनेक बीमारियों से बचाव होता है। आइये जानते हैं कि यह मीठा नीम (करी पत्ता) किन किन बीमारियों के लिए फ़ायदेमंद है -

(1) लिवर के लिए फायदेमंद-
लीवर शरीर का बहुत महत्‍वपूर्ण हिस्सा है और इसका निरंतर बिना रुके सही तरीके से काम करना जरुरी होता है। करी पत्ता लीवर को सशक्त बनाता है। यह लीवर को बैक्‍टीरिया तथा वायरल इंफेक्शन से बचाता है। इसके अलावा यह फ्री रेडिकल्स, हेपेटाइटिस, सिरोसिस जैसी कई बीमारियों से भी बचाता है।

(2) आंखों की रोशनी के लिए फायदेमंद-
करी पत्ता में पर्याप्त मात्रा में विटामिन A होता है। विटामिन A आंखों के स्वास्थ्‍य के लिए बहुत जरूरी होता है। इसकी कमी से आंखों की रोशनी कम होना जैसी कई समस्या हो सकती है। तो विटामिन A की कमी को पूरा करने के लिए भी आपको करी पत्ते का सेवन करना चाहिए।


(3) दिल की बीमारियों से बचने के लिए-
इसमें LDL कोलेस्ट्रॉल कम करने का गुण होता है। LDL कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाने से दिल की बीमारियों के होने की आशंका ज़्यादा हो जाती है। करी पत्ता का उपयोग आपको दिल की बीमारियों से भी दूर रखने में मदद करता है।

(4) कैंसर जैसी बीमारी के लिये फ़ायदेमंद-
करी पत्ते दरअसल अनेक प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट और फेनोल्स से भरपूर होते हैं, जो आपको कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से भी बचा सकते हैं। करी पत्ते का विशेष तत्व ल्यूकेमिया एक ऐसा तत्व है जो प्रोस्टेट कैंसर और कोलोरेक्टल कैंसर जैसी बीमारियों से बचाव करने में अत्यंत लाभकारी माना जाता है।

(5) खून की कमी दूर करने में उपयोगी-
करी पत्तों में आयरन और फोलिक एसिड दोनों ही पाए जाते हैं। जिस कारण ये दोनों ही शरीर में ख़ून की कमी दूर करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं। यानि कि आप अगर नियमित रूप से करी पत्ते का सेवन करेंगे तो निश्चित रूप से आपके शरीर में ख़ून की कभी कमी नहीं होगी। 
 

(6) डाइबिटीज़ के मरीज़ के लिए उपयोगी-
आज के दौर में डायबिटीज़ के मरीज़ों की संख्या बहुतायत में पायी जाती है। यह समस्या एक आम समस्या बनने लगी है जो कि भविष्य के लिए चिंताजनक है। लेकिन चिंता न करें। यह करी पत्ता आपके लिए बेहद लाभदायक साबित हो सकता है। करी पत्ता की एक ख़ासियत यह है कि यह हमारे शरीर मे ख़ून की मात्रा को कम करता है। इसमें मौजूद फाइबर, शुगर के लेबल को कम करने में मदद करते है।

(7) पाचन और वज़न कम करने में सहायक-
आज की आपाधापी भरी ज़िन्दगी में पाचन और मोटापे की समस्या आम है। लोग इस समस्या से निजात पाने का उपाय हमेशा ही खोजते रहते हैं मगर सफलता हाथ नहीं लगती। करी पत्ते की एक ख़ूबी यह भी है कि यह पाचन सही करने और वज़न को कम करने में भी हमारी मदद करता है। इसके लिए आप रोज़ सुबह ख़ाली पेट 4-5 पत्तियां खाकर और गरम पानी पी सकते हैं। 


करी पत्ता किस काम आता है? यह आपने इस अंक में जान लिया होगा। सचमुच करी पत्ते में आयरन, कैल्शियम, फास्फोरस और कई तरह के विटामिन्स पाए जाते हैं जो कि आपके शरीर को एनीमिया, हाईबीपी, मधुमेह आदि बीमारियों से बचाने में मदद करते हैं। इसके अलावा इसमें विटामिन बी2, बी6 और बी9 भी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। जो बालों को घने और मज़बूत बनाने में लगातार मदद करते हैं।        
अच्छी सेहत के लिए आप करी पत्तों को सुबह ख़ाली पेट चबाकर खाइये और निजात पाइये अनेक ऐसी बीमारियों से, जिनका सामना आज की व्यस्त जीवन शैली में अक्सर होता है। करी पत्ते का आयुर्वेदिक प्रयोग करना सीख जाइये क्योँकि करी पत्ते के अंदर कई बेमिसाल औषधीय गुण होते हैं, जो आपके बालों और त्वचा को पोषण देने के साथ-साथ आपके शरीर को अंदर से भी फिट रखते हैं। 

उम्मीद करते हैं आप करी पत्ते के उपयोग क्या हैं? अच्छी तरह जान चुके होंगे। मीठा नीम यानि करी पत्ता (curry leaf) कितना फायदेमंद है? इस आर्टिकल में हमने यह बताने की पूरी कोशिश की है। आशा है आप करी पत्ता curry leaf का उपयोग करना अपने जीवन में अवश्य ही सीख सकेंगे और उपरोक्त बीमारियों से अपना बचाव कर सकेंगे।
- By Poonam

हमारे अन्य आर्टिकल्स भी पढ़ें 👇

एक टिप्पणी भेजें

2 टिप्पणियाँ