महिलाएं नज़रअंदाज़ कभी न करें, अगर दिखाई दें ये लक्षण | Never ignore these 5 problems by knowing in hindi

महिलाएँ हो जाएँ सावधान, अगर दिखाई दें ये लक्षण ꘡ Women should be careful, if these symptoms appear

आप हमारी इन बातों से इत्तफ़ाक़ ज़रूर रखती होंगी। जो बात हम इस लेख में आज आप सभी से कहने वाले हैं। ज़ाहिर सी बात है आप चाहे गृहिणी हैं या कामकाजी महिला हैं। अपने परिवार का ध्यान तो आपको रखना ही होता है। साथ ही अपना ख़याल भी।


जी हाँ! एक महिला के लिए सारे घर और घर के सभी सदस्यों का ध्यान रखना जितना ज़रूरी है। उतना ही ज़्यादा ज़रूरी है। उन्हें ख़ुद का भी ध्यान रखना। आज के समय में महिलाओं को हेल्दी लाइफ़स्टाइल जीने का तरीका आना चाहिए। क्योंकि आप अपना ख़याल रखेंगी तभी तो अपने घर के सदस्यों का ध्यान रख पाएंगी। यदि संभव हो तो अपने बीज़ी वक़्त से समय चुराकर योगा व प्राणायाम के फ़ायदे ज़रूर लें। अच्छे खानपान के साथ अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बनाये रखें। 

अक़्सर महिलाएँ अपने शरीर में होने वाले बदलावों और स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों को नज़र अंदाज़ कर देती हैं।
लेकिन हम आपको बता दें कि स्वास्थ्य संबंधी यही लापरवाही हमारे लिए आगे चलकर गंभीर समस्या का रूप ले सकती हैं। इसलिए महिलाओं को चाहिए कि वो इन बातों को गंभीरता लेने की आदत डालें। साथ ही जल्द से जल्द उपचार के बारे में सोचने का प्रयास करें।


दोस्तों हम बात कर रहे थे कुछ लक्षणों के बारे में जिनके प्रति सतर्क रहना आपके लिए बेहद आवश्यक है। तो चलिये जानते हैं कि ये लक्षण क्या हो सकते हैं?

(1) चक्कर आना (Dizziness problem)



अगर आपको बग़ैर किसी शारीरिक श्रम यानि कि बिना मेहनत किये अथवा किसी भी अन्य वजह से चक्कर आ रहे हैं। या समझ लो कि आपका सिर घूमने लगता है। तो आपको हमारी विशेष सलाह यही है कि आप ऐसे मामलों में नजरअंदाज बिल्कुल भी ना करें। 


बिना ख़ास वजहों के इस तरह से चक्कर आना, दिल की बीमारी की ओर इशारा करता है। केवल यही नहीं बल्कि इसके और भी कुछ घातक कारण हो सकते हैं, जैसे साइनस या कान में किसी तरह की परेशानी का होना।

(2) वज़न कम होना (Weight loss problem)



बग़ैर डाइटिंग या वर्कआउट के अगर आपका वज़न अचानक कम होता चला जा रहा है, तो इसके प्रति लापरवाही बिल्कुल न करें और इस समस्या का कारण जानें। बिना डायटिंग के भी आपका वजन 5 किलो से भी कम हो जाए तो यह यह पैंक्रियाज़, पेट, ग्रासनली या फ़िर फेफड़ों के कैंसर की ओर इशारा करता है।


(3) आंखों की समस्या (Eye problems)



यदि आप महसूस कर रहे हैं कि बिना किसी दर्द के अचानक आपकी आंखों की शक्ति कम हो रही है। तो यह स्ट्रोक का लक्षणभी हो सकता है। दरअसल पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में यह ख़तरा ज़रा ज़्यादा होता है और ख़तरा 35 से 50 वर्ष की उम्र की महिलाओं में भी होता है।

(4) असामान्य मासिक धर्म (Abnormal menstruation)



यदि मासिक धर्म के समय सामान्य से अधि‍क रक्तस्त्राव हो रहा है। तो यह फाइब्रॉइड या गर्भाशय का ट्यूमर भी हो सकता है। लगातार ऐसी समस्या होने पर इसके दुष्परिणाम जैसे एनीमिया, थकान, गर्भ ठहरने में परेशानी और साथ में और भी कई परेशानियां आ सकती हैं।

(5) दस्त (Diarrhea problem)



खाने-पीने में गड़बड़ी होने से पेट ख़राब हो जाना आम बात है। लेकिन अक़्सर रात के समय हर दिन आपको दस्त लगने जैसा महसूस हो रहा हो, तो चिकित्सक को ज़रूर दिखाएं क्योंकि यह आपकी आंतों में सूजन या संक्रमण की समस्या हो सकती है।

उम्मीद करते हैं आपको हमारा यह लेख "Never ignore these 5 problems by knowing in hindi" आपके लिए लाभप्रद ज़रूर होगा। साथ ही यही आशा करते हैं कि आप भी इन लक्षणों को देखकर कभी लापरवाही नहीं बरतेंगी। क्योंकि ज़रा-ज़रा सी लापरवाहियाँ ही हमें बाद में भारी पड़ जाया करती हैं। इसीलिए हमारा कहना मानें तो सेहतमंद रहने के लिए ख़ास टिप्स अपना सकती हैं।
by poonam

हमारे अन्य आर्टिकल्स भी अवश्य पढ़ें👇

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ