पुदीना के फ़ायदे | पुदीना के औषधीय उपयोग | pudina ki patti ke fayde



हेलो दोस्तों, आज हम फ़िर आपके लिये कुछ ख़ास और एक बेहतरीन पोस्ट "पुदीना के फ़ायदे और नुक़सान" लेकर आ गये हैं। जो आपके लिए बेहद ख़ास और हेल्दी यानि कि बहुत फ़ायदेमंद होने वाला है।

दोस्तों गर्मी अपने चरम पर है और सूर्य देवता भी जमकर अपनी अग्नि (heat waves) से धरती को तपाने में कोई कसर नही छोड़ रहे हैं। ऐसे में आपको अपना और अपनों से जुड़े ख़ास लोगों का ख़याल रखना निहायत ही ज़रूरी है। जिससे आप इस चिलचिलाती गर्मी में भी अपना ध्यान रख सकें।

अब बात निकल ही गयी है ख़ुद का ख़याल रखने की। तो हम आपको बता दें कि इसके लिए प्रकृति ने हमें पहले से ही कुछ ख़ास और हर सीज़न पर मिलने वाली औषधियाँ, पेड़ पौधों के रूप में दे रखी है। जिन्हें हम सभी अपने क्षेत्र में अपनी भाषाओं के अनुसार अलग अलग नामों से जानते हैं। उन्हीं में से एक है पुदीना

यह बहुत ही गुणकारी पौधा है। पुदीने की पत्तियों के फ़ायदे की बात करें तो इनका इस्तेमाल व्यंजनों का ज़ायका बढ़ाने में किया जाता है। इनके अलावा पुदीना के औषधीय उपयोग भी लाजवाब हैं। कुछ शारीरिक समस्याओं के लिए तो मानो पुदीना के औषधीय प्रयोग किसी चमत्कार से कम नहीं। तो चलिए हम आपको बिना देर किए पुदीना के औषधीय गुण के बारे में बता ही देते हैं।


पुदीना के उपयोग | पुदीना के पत्तियों के फ़ायदे




पुदीना एक ख़ुशबूदार पौधा है। जिसकी खेती विश्व के कई देशों में की जाती है। इसका उपयोग हर्बल चाय से लेकर एसेंशियल ऑयल बनाने में भी किया जाता है। लाजवाब औषधीय गुणों के कारण इसे स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक माना जाता है। शोधों के द्वारा पता चला है कि पुदीना में एंटीमाइक्रोबियल, एंटीवायरस, एंटीऑक्सीडेंट, एंटीट्यूमर और एंटी एलर्जेनिक गुण पाए जाते हैं। आइये विस्तार से पुदीना के फ़ायदे हिंदी में pudina ke fayde hindi me जानते हैं-

(1) पुदीना का शरबत (pudina ke sharbat ke fayde

पुदीना का सबसे बढ़िया और असरदार उपयोग है इसका शरबत बनाना। जी हाँ, पुदीना का शरबत गर्मीयों के लिए रामबाण औषधि है। आइये जानते है पुदीना का शरबत कैसे बनाएँ? Pudina ka sharbat kaise banaye? इसे बनाने के लिए आप 2 ग्लास ठंडा पानी लें। अब इसमें अपनी आवश्यकतानुसार चीनी, मिश्री या गुड़ कुछ भी ले सकते हैं।


अब इस में कम से कम 25 से 30 पत्तियाँ पुदीना की अच्छी तरह कूटी हुई या पीसी हुई डाल दें और अच्छी तरह मिक्स कर लें। अब इसमें स्वादानुसार थोड़ा नीबू मिला सकते हैं। ये बिल्कुल optional है। अब इसे एक ग्लास जार में छान लें। लीजिये तैयार है। आपकी हेल्दी पुदीना ड्रिंक या पुदीना का शरबत तैयार है। आप इसे थोड़ी देर फ्रिज रखकर आराम से पी सकते हैं।


(2) पुदीना की चटनी (pudina ki chatni)

ब्रेक फ़ास्ट हो, लंच हो या डिनर हो, पुदीने की चटनी (pudine ki chatni) मिल जाये तो खाने का ज़ायका ही बदल जाता है। तो आइये जानते हैं पुदीने की चटनी कैसे बनती है? (Pudine ki chatni kaise banti hai?) सबसे पहले आप पुदीना की 25 से 30 पत्तियों को या एक कटोरी को अच्छी तरह धोकर साफ़ कर लें। 

अब इन्हें बारीक़ कट कर लें। अब आप 2 से 3 लहसून की कलियाँ, एक कटोरी धनिया, 2 से 3 हरी मिर्च और स्वादानुसार नमक ले सकते हैं। आप इसमें 1 टमाटर या नीबू का रस भी मिला सकते हैं। है। अब इन्हें मिक्सी या जार में बारीक़ चटनी की तरह पीस लें।

लीजिये तैयार है पुदीने की चटनी रेसिपी इन हिंदी (pudine ki chatni recipe in hindi) आप इसे गरमागरम रोटी, दाल, चावल, आलू की सब्ज़ी या पुलाव के साथ सर्व कर सकते हैं। और एक testy और healthy रेसिपी का आनंद ले सकते हैं। यह भोजन में स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ आपके पेट की ठंडक (शीतलता) प्रदान करेगा। जिसमें आप गरम मसालों से होने वाली activity से बचे रहेंगे।

(3) पुदीना की पत्तियों का पाउडर (pudine ki patti ka powder)

अगर आप बरसात या अधिक समय के लिए पुदीना को स्टोर करके रखना चाहते हैं तो आप पुदीना की पत्तियों को साफ़ करके अच्छी तरह पोंछकर, एक साफ कपड़े में घर के अंदर छाँव में सुखा दें। छाँव में सुखाने से पत्तियों का कलर फ़ीका नहीं पड़ेगा और ख़ुशबू भी बरक़रार रहेगी। आप पुदीने के पत्ती का पाउडर (pudine ka powder) बनाकर रख सकते हैं ताकि बाद में इस्तेमाल कर इसके फ़ायदे ले सकें।



(4) पुदीना का काढ़ा (pudina ka kadha)

अगर आपके पेट में ठीक न लग रहा जो, जी मचला रहा हो, गैस या बदहज़मी परेशान कर रही हो। तो ऐसे समय में पुदीना का काढ़ा किसी रामबाण से कम नहीं। आइये जानते है पुदीना का काढ़ा कैसे बनाएँ (pudina ka kadha kaise banaen?) जानने दF के लिए बाउल में 1 गिलास पानी लें। अब इसमें साफ ताज़ा पुदीना की पत्तियाँ 10 से 15 डाल दीजिए। 

अब इसमें 1 छोटा दालचीनी का टुकड़ा, या लौंग डालकर अच्छी तरह उबाल लें। अब 10 से 15 मिनट के लिए पकने दें। अब इसे 1 गिलास में छान लें और थोड़ा ठंडा होने दें। अब इसे सिप-सिप करके एक-एक घूँट का आनंद लेते हुए पीजिये। हमें यक़ीन है ये पुदीना का काढ़ा आपके रोम-रोम में ताज़गी भर देगा।


(5) पुदीना का रायता (pudina raita)

अगर आपको पुदीने का रायता बनाने की विधि जानना हो तो आइये जानते हैं कि पुदीने का रायता कैसे बनाएं? (Pudine ka raita kaise banaye?) इसके लिए आप 1 बाउल दही लें। दही को अच्छी तरह से फेंट लें। अब इसमें 12 से 15 पुदीना की पत्तियों को बारीक़ काट लें या इसे पीस लें और दही में डाल दें। इसमें आवश्यकतानुसार काला नमक, चुटकी भर हींग डाल दें। अब इसमें थोड़ा सा धनिया डालकर सर्व करें। आप चाहें तो इसमें थोड़े अनार के दाने या नमकीन बूंदी भी डाल सकते हैं। उम्मीद है अब आप pudine ka raita recipe जान चुके हैं।

(6) पुदीना का सलाद -

भोजन के साथ पुदीना का सलाद हो जाए तो क्या कहने। आइये जानते हैं पुदीना का सलाद कैसे बनाते हैं? Pudina ka salad kaise banate hain? इसे बनाने के लिए आप खीरा को बारीक़ कट कर लें, आप इसमें गाजर भी ले सकते हैं। अब इसमें पुदीना की बारीक़-बारीक़ पत्तियों को कट करके अच्छी तरह मिक्स कर लें। आप इस सलाद को अच्छी तरह चबा-चबाकर खाएँ।

(7) मुँह की दुर्गंध दूर करने -

अगर आपके मुँह से दुर्गंध आ रही है या मुँह में किसी तरह का infection है। तो आप 2 से 3 पत्तियों को चबा-चबाकर खाएं और थोड़ा पानी पी लें। थोड़ी देर में ही आपके मुँह से दुर्गंध आना बंद हो जाएगी।


(8) पुदीना से Air freshner बनाना-




पुदीना अपने आप में अनेक औषधीय गुणों से भरपूर है। इसका उपयोग चाहे खाने में हो या लगाने में हो। दोनों ही तरफ़ से बहुत ही लाभदायी है। अगर आप अपने रूम या पूरे घर की हवा में शुद्धता एवं ताज़गी घोलना चाहते हैं तो आप पुदीना की पत्तियों से एयर फ्रेशनर बना सकते हैं। आइये जानते हैं कि पुदीना से एयर फ्रेशनर कैसे बनाते हैं? (pudina se air freshener kaise banate hain?)

• सबसे पहले पुदीने की 15-20 पत्तियों को अच्छी तरह से धोकर साफ़ कर लें। अब एक कंटेनर में या एक जार में 1 गिलास पानी ले लें।


• अब इसमें पुदीना की पत्तियों को डाल कर रख दें। इसमें आप अपनी पसंद के flowers जैसे गुलाब या चमेली या मोगरा आदि कोई भी ले सकते हैं। एवं जार में डालकर रात भर के लिए फ्रिज़ रख दें।

रात में इनकी सारी good properties इस water में आ जायेगी। अब सुबह इसे छानकर air tight कंटेनर में स्टोर करके रख दीजिए।

• अब आपको जब भी freshness की ज़रूरत हो। आप इसको स्प्रे करिये। फ़िर देखिए इसकी जादुई ख़ुशबू से कैसे आपका घर महक उठता है।

• इसके कई फ़ायदे हैं। सबसे पहले तो ये एक Natural Air freshner है जिसे आप अपने हाथों से बनाकर store कर सकते हैं। ऊपर से इसमें कोई केमिकल नहीं।





• इससे आपके घर में छोटे बच्चों को भी किसी प्रकार का नुक़सान नहीं पहुँच सकता। आप इसे use करने के बाद फ्रिज़ में ज़रूर रखें। इस बात का विशेष ख़याल रखें कि गर्मी के दिनों में इसके ख़राब होने के चांस ज़्यादा रहते हैं।


(9) पुदीना से skin toner बनाना -

आप पुदीना की 15-20 पत्तियों को साफ़ करके 1 गिलास में डाल दें। अब इसमें 2 चम्मच एलोविरा जेल मिला लें। अगर ताज़ा एलोविरा जेल मिल जाये तो ज़्यादा बेहतर है। इसमें आप गुलाब जल, अगर न हो तो गुलाब की 25-30 पंखुड़ियां या 1 से 2 गुलाब की पंखुड़ियों को डालें। आप चाहें तो इसमें ख़ुशबुदार तेल डाल सकते हैं। इसके लिए आप किसी भी फ़्लेवर flavour का use कर सकते हैं। 

इन्हें रात भर पानी मे भिगोने के बाद air tight spray कंटेनर छानने के बाद फ्रिज़ में store करके रखें। अब आप इसे रात में सोने से पहले एवं दिन में किसी भी एक टाइम जब भी आपको टाइम मिले, use कर सकते हैं।


आप यक़ीन नहीं करेंगे, इस natural skin toner से आपकी स्कीन hydrated glowing चमकदार और चिकनी (smooth) हो जाएगी। इसका रिज़ल्ट आपको ख़ुद ही समझ आ जाएगा। इससे आपकी झुर्रियाँ और स्कीन प्रॉब्लम से भी छुटकारा मिल जाएगा। आप चाहें तो इसमें अपने तरीक़े से अपनी पसंद के natural ingredients भी मिला सकते हैं।


(10) पुदीना से चीटियाँ व मकोड़े दूर भगाना -

जी हाँ, पुदीना के हैरान कर देने वाले फ़ायदों में से एक फ़ायदा यह भी है कि जहाँ भी चीटियाँ या मकोड़े दिखाई दें। पुदीने से चींटी और मकोड़े कैसे भागते हैं? (Pudine se chiti aur makode kaise bhagate hain? तो हम आपको बता दें कि वहाँ आप पुदीना की पत्तियों को या इसकी छोटी-छोटी डालियों को रख दीजिए। इससे चीटियाँ एवं कीड़े-मकोड़े दूर भाग जाते हैं। साथ ही इस बहाने आसपास का वातावरण भी शुद्ध हो जाता है। 

उम्मीद है अब आप पुदीने से कीड़े-मकोड़े और चींटी कैसे भगाएं? (pudine se kide makode kaise bhagayein?) जान चुके होंगे। पुदीना के औषधीय गुण लाजवाब हैं हमने आपको इसके फ़ायदे बताने का भरपूर प्रयास किया है। पाठकों को हम विशेष तौर पर यह बता देना चाहते हैं कि हमारे इस लेख में बताई गई जानकारी किसी बीमारी का निश्चित इलाज नहीं है। इसके इस्तेमाल से कुछ हद तक आराम ज़रूर मिल सकता है। लेकिन यदि ज़्यादा परेशानी हो तो, आप किसी अच्छे चिकित्सक से ज़रूर मिलें।
- 'By Poonam'

अन्य आर्टिकल्स भी पढ़ें👇

























एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ